Swami Vivekananda Thoughts In Hindi | 82 Swami Vivekananda Ke Anmol Vichar - Swami Vivekananda Quotes In Hindi, Swami Vivekanand Ke Vichar Hindi Me

Swami Vivekananda Thoughts In Hindi | Swami Vivekananda Ke Anmol Vichar – स्वामी विवेकानंद के 82 अनमोल विचार जानिए

Swami Vivekananda Thoughts In Hindi – स्वामी विवेकानंद का जन्म 12 जनवरी 1863 को कोलकाता में हुआ नरेंद्र नाम का यह बालक आगे चलकर स्वामी विवेकानंद बने यह एक युवा सन्यासी वेदों के प्रकाण्ड ज्ञाता और प्रभावशाली आध्यात्मिक गुरु थे इनके ओजस्वी विचार Swami Vivekanand Quotes In Hindi, Swami Vivekananda Ke Anmol Vachan विश्व विख्यात प्रचलित है इन्होंने अमेरिका स्थित शिकागो में आयोजित विश्व धर्म महासभा में भारत की और से सनातन धर्म का प्रतिनिधित्व किया था।

स्वामी विवेकानंद एक आध्यात्मिक गुरु और समाज सुधारक  महान व्यक्तित्व के धनी थे, जिनके उच्च विचारों, आध्यात्मिक ज्ञान, संस्कृत अनुभव से हर कोई बहुत ज़्यादा प्रभावित है,

स्वामी विवेकानंद साहित्य दर्शन और इतिहास के प्रकाण्ड विद्वान थे, इन्होंने योग, राजयोग और ज्ञानयोग जैसे ग्रंथो की रचना करके युवा पीढ़ी को एक नई राह दिखाई है, जिसका प्रभाव जनमानस पर युगों-युगों तक छाया रहेगा,

स्वामी विवेकानंद का जन्म दिवस राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में मनाया जाता है इनके विचार युवाओं को सदा ही प्रेरित करते हैं आज की इस पोस्ट में हम Swami Vivekanand Quotes In Hindi, Swami Vivekanand Thoughts In Hindi, Swami Vivekananda Ke Anmol Vachan लेकर आये हैं यदि आप इन विचारों को अपने जीवन मे उतारते हैं तो आपके जीवन में काफी बदलाव आएगा।

दोस्तों मुझे विश्वास है कि Swami Vivekanand Thoughts In Hindi, Swami Vivekananda Ke Anmol Vichar पर अनमोल विचार की यह पोस्ट आपको पसंद आये यदि आपको यह पोस्ट पसंद आती है तो आप इसे अपने दोस्तों तक सोशल मीडिया व्हाट्सअप  फेसबुक के माध्यम से जरूर share करें।

Swami Vivekananda Thoughts In Hindi

1. बह्माण्ड की सारी शक्तियाँ हमारे अंदर निहित हैं और ये हम ही हैं जो अपनी आखों पर पट्टी बांधकर अंधकार होने का रोना रोते हैं! – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

2. एक समय में एक ही काम करो और पूरी निष्ठां और लगन से करो बाकि सब कुछ भुला दो – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Ke Anmol Vichar
3. सत्य के लिए सब कुछ त्यागा जा सकता है, पर सत्य का किसी भी चीज़ के लिए छोड़ा नही जा सकता,उसकी बलि नहीं दी जा सकती!सभी प्राणियों के प्रति करुना रखो !जो दुःख में है उन पर दया करो; सब प्राणियों से प्रेम करो, किसी से इर्ष्य मत करो, दुसरो के दोष मत देखो। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

4. किसी की निंदा ना करें: अगर आप मदद के लिए हाथ बढ़ा सकते हैं, तो ज़रुर बढाएं, अगर नहीं बढ़ा सकते, तो अपने हाथ जोड़िये, अपने भाइयों को आशीर्वाद दीजिये, और उन्हें उनके मार्ग पे जाने दीजिये। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Quotes In Hindi
5. वही लोग अच्छा जीवन जीते हैं जो दूसरों के लिए जीते हैं। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)



6. इस दुनिया में सभी भेद-भाव किसी स्तर के हैं, ना कि प्रकार के, क्योंकि एकता ही सभी चीजों का रहस्य है। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

7. कुछ मत पूछो, बदले में कुछ मत मांगो. जो देना है वो दो, वो तुम तक वापस आएगा, पर उसके बारे में अभी मत सोचो। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Thoughts In Hindi
8. अच्छे आदमी सब विधि विधानों से ऊपर उठाते है ,और वे ही अपने लोगों को – चाहे वो किन परिस्थितियों में क्यों न हो – ऊपर उठाने में मदद करते है !– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)


9. मेरी आशा मेरा विश्वाश नई पीढ़ी के युवाओ पर है. केवल मनुष्यों की आवश्यकता है और सब कुछ हो जायेगा किन्तु आवश्यकता है वीर्यवान, तेजश्वी, श्रधासम्प्पन और अंत तक कपट रहित युवाओ की ! इस प्रकार के सौ युवाओ से संसार के सभी भाव बदल दिए जा सकते है !– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Thoughts In Hindi | 82 Swami Vivekananda Ke Anmol Vichar - Swami Vivekananda Quotes In Hindi, Swami Vivekanand Ke Vichar Hindi Me
Swami Vivekananda Thoughts In Hindi

Swami Vivekananda Ke Anmol Vichar
10. जिस पल आपको यह पता चल जायेगा कि ईश्वर आपके भीतर है। उस पल से आपको प्रत्येक व्यक्ति में ईश्वर की छवि नजर आने लगेगी– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Ke Anmol Vichar

11. जब तक जीवन है, सीखते रहो क्यूंकि अनुभव ही सबसे श्रेष्ठ शिक्षक है– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

12. हम जैसा सोचते हैं बाहर की दुनिया बिलकुल वैसी ही है, हमारे विचार ही चीजों को सुंदर और बदसूरत बनाते हैं। सम्पूर्ण संसार हमारे अंदर समाया हुआ है, बस जरूरत है तो चीजों को सही रोशनी में रखकर देखने की।– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Quotes In Hindi
13. समय का पाबंद होना, लोगों पर आपके विश्वास को बढ़ाता है। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

14. महान कार्य के लिए महान त्याग करने पड़ते हैं। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

15. वे लोग धन्य हैं जिनके शरीर दूसरों की सेवा करने में नष्ट हो जाते हैं। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Thoughts In Hindi
16. जितना कठिन संघर्ष होगा जीत उतनी ही शानदार होगी। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

17. शक्ति जीवन है, निर्बलता मृत्यु है, विस्तार जीवन है, संकुचन मृत्यु है, प्रेम जीवन है, द्वेष मृत्यु है।

Swami Vivekananda Ke Anmol Vichar
18. किसी दिन, जब आपके सामने कोई समस्या ना आये – आप सुनिश्चित हो सकते हैं कि आप गलत मार्ग पर चल रहे हैं। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

19. स्वतंत्र होने का साहस करो जहाँ तक तुम्हारे विचार जाते हैं वहां तक जाने का साहस करो, और उन्हें अपने जीवन में उतारने का साहस करो.– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

20.जो अग्नि हमें गर्मी देती है, हमें नष्ट भी कर सकती है, यह अग्नि का दोष नहीं है.– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)


Swami Vivekananda Quotes In Hindi

21.संभव की सीमा को जानने का सबसे उत्तम तरीका है, असंभव की सीमा से आगे निकल जाना। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

22. किसी दिन, जब आपके सामने कोई समस्या ना आये – आप सुनिश्चित हो सकते हैं कि आप गलत मार्ग पर चल रहे हैं। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Quotes In Hindi
23. यही दुनिया है; यदि तुम किसी का उपकार करो, तो लोग उसे कोई महत्व नहीं देंगे, किन्तु ज्यों ही तुम उस कार्य को बंद कर दो, वे तुरन्त तुम्हें बदमाश प्रमाणित करने में नहीं हिचकिचायेंगे। मेरे जैसे भावुक व्यक्ति अपने सगे – स्नेहियों द्वारा ठगे जाते हैं। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Thoughts In Hindi
24.जितना ही हम दुसरो के लिए अच्छा करते हैं उतना ही हमारा ह्रदय पवित्र हो जाता हैं और भगवान उसमे निवास करते हैं

25. हम जो बोते हैं वो काटते हैं। हम स्वयं अपने भाग्य के निर्माता हैं।– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Ke Anmol Vichar
26.कोई लक्ष्य मनुष्य के साहस से बडा नही होता, हारा वही जो लडा नहीं।– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

27.भय ही पतन और पाप का मुख्य कारण है। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekanand Ke Vichar Hindi Me
28.जो सत्य है, उसे साहसपूर्वक निर्भीक होकर लोगों से कहो–उससे किसी को कष्ट होता है या नहीं, इस ओर ध्यान मत दो।

दुर्बलता को कभी आश्रय मत दो सत्य की ज्योति ‘बुद्धिमान’ मनुष्यों के लिए यदि अत्यधिक मात्रा में प्रखर प्रतीत होती है, और उन्हें बहा ले जाती है, तो ले जाने दो; वे जितना शीघ्र बह जाएँ उतना अच्छा ही हैं। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Quotes In Hindi For Students
29.क्या तुम नहीं अनुभव करते कि दूसरों के ऊपर निर्भर रहना बुद्धिमानी नहीं हैं। बुद्धिमान् व्यक्ति को अपने ही पैरों पर दृढता पूर्वक खड़ा होकर कार्य करना चहिए। धीरे धीरे सब कुछ ठीक हो जाएगा। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

30.सच्ची सफलता और आनंद का सबसे बड़ा रहस्य यह है- वह पुरुष या स्त्री जो बदले में कुछ नहीं मांगता। पूर्ण रूप से निःस्वार्थ व्यक्ति, सबसे सफल हैं। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Vivekananda Thoughts In Hindi

31.चिंतन करो, चिंता नहीं , नए विचारों को जन्म दो। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Thoughts In Hindi
32.कोई और तुम्हारी मदद नहीं कर सकता, अपनी मदद स्वयं करो
आप ही खुद के सबसे अच्छे मित्र हैं और सबसे बड़े दुश्मन भी। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

33.दिन में कम से कम एकबार खुद से जरूर बात करें
अन्यथा आप एक उत्कृष्ट व्यक्ति के साथ एक बैठक गँवा देंगे। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Ke Anmol Vichar
34.जीवन में एक समय ऐसा आता है जब व्यक्ति ये अनुभव करता है कि
दूसरे मनुष्यों की सेवा करना, लाखों जप तप के बराबर है। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

35.वेदान्त कोई पाप नहीं जानता वो केवल त्रुटी जानता है. और वेदान्त कहता है कि सबसे बड़ी त्रुटी यह कहना है कि
तुम कमजोर हो, तुम पापी हो, एक तुच्छ प्राणी हो, और तुम्हारे पास कोई शक्ति नहीं है और तुम ये-वो नहीं कर सकते। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Quotes In Hindi
36.इस दुनिया में सभी भेद-भाव किसी स्तर के हैं, ना कि प्रकार के, क्योंकि एकता ही सभी चीजों का रहस्य है. – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

37.हम जितना ज्यादा बाहर जायें और दूसरों का भला करें, हमारा ह्रदय उतना ही शुद्ध होगा, और परमात्मा उसमे बसेंगे. – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

38.विश्व एक विशाल व्यायामशाला है जहाँ हम खुद को मजबूत बनाने के लिए आते हैं। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Thoughts In Hindi
39.दिल और दिमाग के टकराव में दिल की सुनो

40.अगर धन दूसरों की भलाई करने में मदद करे, तो इसका कुछ मूल्य है, अन्यथा, ये सिर्फ बुराई का एक ढेर है, और इससे जितना जल्दी छुटकारा मिल जाये उतना बेहतर है. – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Thoughts In Hindi

41.उठो मेरे शेरो, इस भ्रम को मिटा दो कि तुम निर्बल हो, तुम एक अमर आत्मा हो, स्वच्छंद जीव हो, धन्य हो, सनातन हो, तुम तत्व नहीं हो ना ही शरीर हो, तत्व तुम्हारा सेवक है
तुम तत्व के सेवक नहीं हो. – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

42. हम वो हैं जो हमें हमारी सोच ने बनाया है, इसलिए इस बात का धयान रखिये कि आप क्या सोचते हैं. शब्द गौण हैं. विचार रहते हैं, वे दूर तक यात्रा करते हैं. – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Ke Anmol Vichar
43. जिसमे आत्मविश्वास नही है वही नास्तिक है ! प्राचीन धर्मो में कहा गया है ,जो इश्वर में विश्वास नही रखता वह नास्तिक है ,परन्तु नूतन धर्म कहता है जो आत्मविश्वास नही रखता वह नास्तिक है। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

44. निंदावाद को एक दम छोड़ दो ! तुम्हारा मुह बंद हो और ह्रदय खुल जाये। इस देश ओर सरे जगत का उद्दार हो ! तुम लोगों में प्रत्येक को यह सोचना होगा की सारा भार तुम्हारे ही ऊपर है। वेदांत का आलोक् घर घर ले जाओ ,घर घर में वेदांत का आदर्श पर जीवन गठित हो. – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Quotes In Hindi
45.जिस तरह से विभिन्न स्रोतों से उत्पन्न धाराएँ अपना जल समुद्र में मिला देती हैं, उसी प्रकार मनुष्य द्वारा चुना हर मार्ग, चाहे अच्छा हो या बुरा भगवान तक जाता है. – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)


46.भला हम भगवान को खोजने कहाँ जा सकते हैं अगर उसे अपने ह्रदय और हर एक जीवित प्राणी में नहीं देख सकते. – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

47.सत्य को हज़ार तरीकों से बताया जा सकता है, फिर भी हर एक सत्य ही होगा. – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Thoughts In Hindi
Swami Vivekananda Thoughts In Hindi | 82 Swami Vivekananda Ke Anmol Vichar - Swami Vivekananda Quotes In Hindi, Swami Vivekanand Ke Vichar Hindi Me
48. पीछे की ओर देखने की आवश्यकता नही है – आगे बढ़ो ! हमें अनंत शक्ति ,अनंत उत्साह अनंत सहस ,अनंत धैर्य चाहिए, तभी महान कार्य सम्प्पन होगा। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

49. उदास रहना कदापि धर्मं नही है,चाहे वह और कुछ भले ही हो ! प्रफुल्लचित्त तथा हस मुख रहने से तुम इश्वर के अधिक समीप पहुच जाओगे। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

50.यदि स्वयं में विश्वास करना और अधिक विस्तार से पढाया और अभ्यास कराया गया होता, तो मुझे यकीन है कि बुराइयों और दुःख का एक बहुत बड़ा हिस्सा गायब हो गया होता. – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekanand Ke Vichar Hindi Me

51.दान सबसे बड़ा धर्म है ज्ञान का दान ही सबसे उत्तम दान है – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

52.जब तक आप स्वयं पर विश्वास नहीं करते, आप भगवान पर विश्वास नहीं कर सकते। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Ke Anmol Vichar
53.सभी को मरना है, सज्जन भी मरेंगे और दुर्जन भी मरेंगे, गरीब भी मरेंगे और अमीर भी मरेंगे इसलिए निष्कपट होकर जीवन जियो – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

54.तुम्हें कोई पढ़ा नहीं सकता, कोई आध्यात्मिक नहीं बना सकता। तुमको सब कुछ खुद अंदर से सीखना है. – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Quotes In Hindi
55.भगवान् की एक परम प्रिय के रूप में पूजा की जानी चाहिए, इस या अगले जीवन की सभी चीजों से बढ़कर। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Thoughts In Hindi
56.सबसे बड़ा धर्म है अपने स्वभाव के प्रति सच्चे होना. स्वयं पर विश्वास करो

Swami Vivekananda Quotes In Hindi For Students
57.एक अच्छे चरित्र का निर्माण हजारों ठोकरें खाने के बाद ही होता है। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

58.तुम फ़ुटबाल के जरिये स्वर्ग के ज्यादा निकट होगे बजाये गीता का अध्ययन करने के। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekanand Ke Vichar Hindi Me
59.उठो, जागो और तब तक नहीं रुको जब तक लक्ष्य ना प्राप्त हो जाये. – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

60.तुम्हें भीतर से जागना होगा
कोई तुम्हें सच्चा ज्ञान नहीं दे सकता
तुम्हारी आत्मा से बड़ा कोई शिक्षक नहीं है – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Quotes In Hindi For Students

61.जो कुछ भी तुमको कमजोर बनाता है – शारीरिक, बौद्धिक या मानसिक उसे जहर की तरह त्याग दो मस्तिष्क की शक्तियां सूर्य की किरणों
के समान हैं. जब वो केन्द्रित होती हैं, चमक उठती हैं।

Swami Vivekananda Quotes In Hindi For Students
62.हम वो हैं जो हमें हमारी सोच ने बनाया है, इसलिए इस बात का धयान रखिये कि आप क्या सोचते हैं. शब्द गौण हैं. विचार रहते हैं, वे दूर तक यात्रा करते हैं.

63.कभी भी बड़ी योजना का हिसाब मत लगाओ, धीरे धीर शुरू करें, अपनी ज़मीन बनाये और धीरे धीरे उसे बढ़ाएं– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Thoughts In Hindi
64.दुनिया क्या सोचती है उन्हें सोचने दो, आप अपने इरादे में मज़बूत रहो, दुनिया एक दिन तुम्हारे क़दमों में होगी…– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

65.परोपकार धर्म का दूसरा नाम है
परपीड़ा सबसे बड़ा पाप !– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Ke Anmol Vichar
66.महात्मा वो है, जो गरीबों और असहाय के लिए रोता है अन्यथा वो दुरात्मा है– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

67.मुझे गर्व है कि मै उस देश से हूँ। जिसने दुनिया को सहिष्णुता और सार्वभौमिक स्वीकृति का पाठ पढाया। हम सभी धर्मो को सत्य के रुप मे स्वीकार करते हैं।– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Quotes In Hindi
68. हमारा कर्तव्य है कि हम सभी को अपने उच्चतम विचार को जीने के लिए संघर्ष करने के लिए प्रोत्साहित करें, और साथ ही आदर्श को सत्य के जितना संभव हो सके बनाने के लिए प्रयास करें। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

69. बार बार परमेश्वर का नाम लेने से कोई धार्मिक नहीं हो जाता। जो व्यक्ति सत्यकर्म करता है वही धार्मिक है। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

70. यही आप मुझको पसंद करते हो तो, मैं आपके दिल में हूँ। यदि आप मुझसे नफरत करते हो , तो मैं आपके मन में हूँ। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Quotes In Hindi For Youth

71.जीवन में ज्यादा रिश्ते होना जरूरी नहीं है लेकिन जो भी रिश्ते हैं, उनमें जीवन का होना जरूरी है। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Thoughts In Hindi
72. बुरे संस्कारों को दबाने का एक मात्र साधन है कि हम लगातार अच्छे विचार अपने दिमाग में लाते रहे।– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)


73.जीवन में असफलताओं से मत घबराइए, यह तो आनी ही है। समस्याओं के बिना जीवन की सुंदरता नहीं है।– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Quotes In Hindi
74. पढ़ने के लिए जरूरी है एकाग्रता, एकाग्रता के लिए जरूरी है ध्यान, ध्यान से ही हम इंद्रियों पर संयम रखकर एकाग्रता प्राप्त कर सकते हैं।– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

75. सुख और दुख एक ही सिक्के के दो पहलू हैं। सुख, जब मनुष्य के पास आता है तो दुख का मुकुट पहनकर आता है। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

76. दुनिया, अपमान करे या सम्मान, इसकी परवाह किए बिना अपना कर्तव्य को करते रहना चाहिए।– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Quotes In Hindi For Students
78.मनुष्य स्वयं अपने भाग्य का निर्माता है।– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

79. दुनिया में अधिकांश लोग इसलिए असफल हो जाते हैं क्योंकि विपरीत परिस्थितियां आने पर उनका साहस टूट जाता है और वह भयभीत हो जाते हैं। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Thoughts In Hindi
80. उम्मीद को हमेशा बना के रखना चाहिए क्योंकि उम्मीद के भरोसे ही हम सब कुछ वापस ला सकते हैं।– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

81. बड़ी योजना की प्राप्ति के लिए, कभी भी ऊंची छलांग मत लगाओ। धीरे धीर शुरू करो, अपनी ज़मीन बनाये रखो और आगे बढ़ते रहो।– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Quotes In Hindi
82. मैंने भगवान से शक्ति मांगी उसने मुझे मुश्किल हालात में डाल दिया। – स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekanand Sikago Speech In Hindi
अमेरिका के भाइयो और बहनो
आपके इस स्नेहपूर्ण और जोरदार स्वागत से मेरा हृदय अपार हर्ष से भर गया है।

मैं आपको दुनिया की सबसे प्राचीन संत परंपरा की तरफ से धन्यवाद देता हूं। मैं आपको सभी धर्मों की जननी की तरफ से धन्यवाद देता हूं और सभी जाति, संप्रदाय के लाखों, करोड़ों हिन्दुओं की तरफ से आपका आभार व्यक्त करता हूं।
मेरा धन्यवाद कुछ उन वक्ताओं को भी जिन्होंने इस मंच से यह कहा कि दुनिया में सहनशीलता का विचार सुदूर पूरब के देशों से फैला है। मुझे गर्व है कि मैं एक ऐसे धर्म से हूं,
जिसने दुनिया को सहनशीलता और सार्वभौमिक स्वीकृति का पाठ पढ़ाया है। हम सिर्फ सार्वभौमिक सहनशीलता में ही विश्वास नहीं रखते, बल्कि हम विश्व के सभी धर्मों को सत्य के रूप में स्वीकार करते हैं।

मुझे गर्व है कि मैं एक ऐसे देश से हूं, जिसने इस धरती के सभी देशों और धर्मों के परेशान और सताए गए लोगों को शरण दी है।
मुझे यह बताते हुए गर्व हो रहा है कि हमने अपने हृदय में उन इस्त्राइलियों की पवित्र स्मृतियां संजोकर रखी हैं, जिनके धर्म स्थलों को रोमन हमलावरों ने तोड़-तोड़कर खंडहर बना दिया था। और तब उन्होंने दक्षिण भारत में शरण ली थी। मुझे इस बात का गर्व है कि मैं एक ऐसे धर्म से हूं, जिसने महान पारसी धर्म के लोगों को शरण दी और अभी भी उन्हें पाल-पोस रहा है।

भाइयो, मैं आपको एक श्लोक की कुछ पंक्तियां सुनाना चाहूंगा जिसे मैंने बचपन से स्मरण किया और दोहराया है और जो रोज करोड़ों लोगों द्वारा हर दिन दोहराया जाता है: ‘रुचिनां वैचित्र्यादृजुकुटिलनानापथजुषाम… नृणामेको गम्यस्त्वमसि पयसामर्णव इव…’
इसका अर्थ है- जिस तरह अलग-अलग स्त्रोतों से निकली विभिन्न नदियां अंत में समुद में जाकर मिलती हैं, उसी तरह मनुष्य अपनी इच्छा के अनुरूप अलग-अलग मार्ग चुनता है। वे देखने में भले ही सीधे या टेढ़े-मेढ़े लगें, पर सभी भगवान तक ही जाते हैं।वर्तमान सम्मेलन जोकि आज तक की सबसे पवित्र सभाओं में से है, गीता में बताए गए इस सिद्धांत का प्रमाण है: जो भी मुझ तक आता है, चाहे वह कैसा भी हो, मैं उस तक पहुंचता हूं। लोग चाहे कोई भी रास्ता चुनें, आखिर में मुझ तक ही पहुंचते हैं।

सांप्रदायिकताएं, कट्टरताएं और इसके भयानक वंशज हठधमिर्ता लंबे समय से पृथ्वी को अपने शिकंजों में जकड़े हुए हैं। इन्होंने पृथ्वी को हिंसा से भर दिया है। कितनी बार ही यह धरती खून से लाल हुई है। कितनी ही सभ्यताओं का विनाश हुआ है और न जाने कितने देश नष्ट हुए हैं।

अगर ये भयानक राक्षस नहीं होते तो आज मानव समाज कहीं ज्यादा उन्नत होता, लेकिन अब उनका समय पूरा हो चुका है। मुझे पूरी उम्मीद है कि आज इस सम्मेलन का शंखनाद सभी हठधर्मिताओं, हर तरह के क्लेश, चाहे वे तलवार से हों या कलम से और सभी मनुष्यों के बीच की दुर्भावनाओं का विनाश करेगा।

दोस्तों मुझे आशा है कि आपको Swami Vivekananda Thoughts In HindiSwami Vivekananda Ke Anmol Vichar पसंद आये, और इनको पढ़कर आप अपने जीवन में समय का सही उपयोग कर सकें, दोस्तों HyHindi.Com पर आपको ऐसे ही बहुत सारे Motivational Thoughts In Hindi, Motivational Quotes In Hindi पढ़ने को मिल जाएंगे जिससे आप खुद और दूसरों को प्रेरित कर सकें। और यह Swami Vivekananda Thoughts In Hindi आपको सफल होने मे मदद करे ।

 हमारी पूरी कोशिश रहती है कि HyHindi के पाठकों को सबसे अच्छा Content प्रदान किया जाये । Swami Vivekananda Thoughts In Hindi के जैसे ही यदि आप किसी विषय पर आर्टिक्ल चाहते हैं तो कमेंट में जरूर बताए हमारी पूरी कोशिश रहेगी की जल्द ही आपको उस विषय पर जानकारी प्रदान की जाये ।

यह भी पढ़ें
Inspirational Quotes In Hindi
Self Motivation कैसे लाएँ
Motivational Thoughts In Hindi
Golden Thoughts Of Life In Hindi
Motivational Status In Hindi
Success Quotes In Hindi – जीवन को सफल बनाने वाले प्रेरित विचार
वारेन बफेट के विचार
अब्दुल कलाम के अनमोल विचार
धैर्य पर अनमोल विचार
Time Quotes in Hindi

2 thoughts on “Swami Vivekananda Thoughts In Hindi | Swami Vivekananda Ke Anmol Vichar – स्वामी विवेकानंद के 82 अनमोल विचार जानिए”

  1. Pingback: 86 Fathers Day Quotes In Hindi | पिता दिवस पर कुछ लाइनें | Best Fathers Day Shayari In Hindi - HyHindi

  2. Pingback: Yoga Day Quotes In Hindi | अंतराष्ट्रीय योग दिवस 2020 - International Yoga Day Quotes In Hindi - HyHindi

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *