Self Motivation In Hindi खुद को मोटिवेट कैसे रखें जानिए अचूक तरीके motivation point in hindi

Self Motivation In Hindi खुद को मोटिवेट कैसे रखें जानिए 10 अचूक तरीके Motivation Point In Hindi

Self Motivation In Hindi खुद को मोटिवेट कैसे रखें दोस्तों जिस प्रकार हमारे शरीर को हष्ट – पुष्ट रखने के लिए विटामिन, मिनरल वाले पोषक भोजन की आवश्यकता होती है उसी प्रकार हमारे दिमाग को स्वस्थ रखने के लिए Motivational thought की आवश्यकता पड़ती है जो समय समय पर हमारे दिमाग को scanning का कार्य करके हमें अपने जीवन मे आगे बढ़ने की शक्ति प्रदान करते हैं।

Self Motivation In Hindi खुद को मोटिवेट कैसे रखें जानिए अचूक तरीके motivation point in hindi
खुद को मोटिवेट कैसे रखें जानिए अचूक तरीके

अक्सर हम सभी के जीवन में ऐसे पड़ाव देखने को मिलते हैं जब हम demotivate हो जाते हैं और फिर लगता है किखुद को मोटिवेट कैसे रखें  या इसे उभरना तो नामुमकिन है। सामान्यतः जब भी हम किसी कार्य को प्रारम्भ करते हैं तो शरुआत में हमारे पास बहुत मोटिवेशन होता है परन्तु किसी करणवश यदि बीच में कोई रुकावट आ गई तो हमारा मोटिवेशन कम होने लगता है और धीरे – धीरे उस काम के प्रति हमारा लगाव कम हो जाता है। आपने भी कई बार ऐसा महसूस किया होगा अगर किया है तो कमेंट में जरूर लिखें।

अधिकतर लोग यहीं पर असफल हो जाते हैं उनको जैसे ही किसी काम से बोरियत आती है वे उसे बीच मे ही छोड़ देते हैं परन्तु जो लोग अडिग रहते हैं वो आगे निकल जाते हैं, परन्तु ये सत्य है कि कुछ ही लोग ऐसे हैं जो इस क्षण पर्वत की तरह अडिग रहकर कार्य को अंजाम तक ले जाते हैं।

Self Motivation In Hindi खुद को मोटिवेट कैसे रखें

दोस्तों यदि आप भी कई बार डिमोटिवेट हो जाते है और आपको अपने भी जीवन में Motivation लाना है तो मेने एक छोटी से कोशिश की है और मुझे विश्वास है कि आप यहाँ से मोटीवेट होकर जरूर जाएँगे। इस पोस्ट के माध्यम से मैं आपको कुछ बिंदु ऐसे बताने वाला हूँ जिन्हें अगर आप ध्यान में रखते हैं तो ये आपके काम आने वाले हैं।

गलतियों से डरें नहीं

दोस्तों अक्सर हम यह सोचते हैं कि कि मैं जो काम कर रहा हूँ वह पहली बार में ही सफल हो और ये सोचना भले ही कोई गलत नहीं है परन्तु अगर वो कार्य किसी कारणवश सफल न हो तो हम बहुत डिमोटिवेट हो जाते हैं और निराश के अताह समुद्र में डूब जाते है जहाँ से सूरज की किरणें दिखना मुशिकल हो जाती है। वास्तव में मनुष्य कभी असफल होता ही नहीं है आप या तो जीतते हो या सीखते हूँ इस बिंदु को कहीं नोट कर लीजिए या तो मुझे जीतना है अन्यथा सीखना है।

यह भी पढ़े

दोस्तों मैं आपको एक महत्वपूर्ण बात बताने वाला हूँ आज से करीब चार साल पहले मुझे भी असफलता का डर सताता था और किसी भी कार्य को करते मैं घबरा जाता कि कहीं मैं इसमे असफल तो नहीं होऊँगा या कहीं यह कार्य मेरे द्वारा गलत तो नहीं होगा एक दिन मुझसे किसी व्यक्ति ने कहा भाई घबरा क्यूँ रहा है अगर ये काम गलत हो जाये तो क्या हुआ तुम अभिमन्यु तो हो नहीं जो पेट से सीख के आते अगर गलत हो भी जाये तो दुबारा कर लेना फिर उस व्यक्ति ने बताया कि देखो जब भी किसी कार्य को शुरू करो हमेशा ये सोचो की यह काम मेरा अपना नहीं हैं अक्सर जब हम खुद का कार्य करते हैं तो हम बहुत अधिक सावधानी से उसे कर रहे होते हैं कि हमको पता ही नहीं होता कि हम इस कार्य को करते वक्त कितना घबरा रहे हैं और इससे अधिकर कार्य असफल हो जाते हैं इसलये जो भी कार्य करो बिंदास करो गलत होने से दुनिया थोड़े न रुक जाएगी। आप या तो सीखेंगे या रो जीतेंगे।

अतीत की छोड़ो आज की बात करो

हम लोग अधिकांश अतीत की बातों से परेशान होते हैं दोस्तों अतीत को छोड़ो क्यूँकि वो चला गया है उसे चाह कर भी हम वापिस नही ला सकते हैं इसलिए आपको जो करना है आज ही करना है “अपने कल को बेहतर बनाने के लिए आज संघर्ष तो करना पड़ेगा” इसलिए मैं कहता हूँ केवल और केवल आज की बात करो भविष्य की गोद में क्या लिखा है ये भी कोई नहीं जानता यदि आज का दिन आप अपना बेहतर बनाते हो तो यकीन मानिए आपका कल का दिन अवश्य बेहतर होगा बस आपको अपना हर दिन बेहतर बनाना है भविष्य तो स्वयं बेहतर हो जाएगा।

इसलिए मैं आपसे फिर कह रहा हूँ आने वाले कल और बीते कल को छोड़ो बस केवल आज की बात करो ओर उसे बेहतर बनाओ।

दोस्तों जब भी आपको लगे कि आप सही कर रहें हैं या नहीं तो एकांत में जाइये और अपने दिल की सुनिए उसे सच मे पता होता है कि आप क्या बनना चाहते हैं और आपको क्या करना चाहिए या आप जो कर रहे हैं वो सही है या गलत।

दूसरों से खुद की तुलना आज ही बंद कर दो

दोस्तों हमारी सबसे बड़ी कमी यही है कि हम दूसरों से अपनी तुलना कर रहे होते हैं कि वो लोग मुझसे कितना आगे हैं हम कभी यह नहीं सोचते कि हमसे पीछे भी बहुत लोग है भले यह सही है कि पीछे देखना उचित नहीं है क्योंकि हमारा लक्ष्य तो आगे बढ़ना है परन्तु कई बार दूसरों से तुलना करते करते हम अपना Motivation खो जाते हैं और फिर निराश हो जाते हैं।

इसलिए दूसरों से खुद की तुलना नहीं करनी चाहिए क्योंकि आप इस धरती पर ईश्वर की बनाई हुई केवल एक ही कृति है आपके जैसा और कोई नहीं है इस संसार में इस पृथ्वी पर आपके रोल को निभाने लायक और कोई व्यक्ति नहीं है इसलिये दूसरों के सामने खुद को नीचा दिखाकर उस ईश्वर का अपमान मत कीजिये आप जो हैं आपसे बेहतर और कैसे हो सकता है बस खुद पर विश्वाश कीजिये और हर दिन मेहनत कीजिये।

असफल लोगों को पढ़ना सीखिए Self Motivation In Hindi

दोस्तों अक्सर लोग सफल लोगों की कहानियाँ पड़ते हैं ये बहुत अच्छा है और पढ़नी भे चाहिए मैं इसका बिल्कुक विरोध नहीं कर रहा हूँ, परन्तु मैं इसके साथ यह जोड़ना चाहता हूँ कि आपको सफल लोगों के साथ असफल लोगों को भी पढ़ना चाहिए और उनकी गलतियों से सीखना चाहिए।

जाहिर सी बात है कि जब भी आप किसी भी कार्य को कर रहे होंगे तो उसमें बहुत सी गलतियां होंगी, जब आप गलती करेंगे तो डर आप दुबारा से उस गलती को सुधारने का।प्रयास करेंगे लेकिन हम दूसरों की गलतियों से सीख सकते हैं और उन गलतियों से बच सकते हैं जो पहले हो रखी है।

अगर मुझे गलती करनी ही है तो वो गलती ऐसी हो जो आज तक किसी ने नहीं की हो अर्थात नई गलती तो बात बने भी परन्तु सभी लोगों की तरह Common गलती से अच्छा है हम दूसरों की गलतियों से सीखकर उसे पहले ही न करें।

लगातार काम करने की आदत बनाएं

दोस्तों महान लक्ष्य ताकत से नहीं लगातार कार्य करने से मिलता हैं अधिकतर लोग जोश में तो कार्य शुरू कर लेते हैं परन्तु कुछ दिन बाद शांत पड़ जाते हैं दोस्तों हमेशा याद रखें “यदि आप वही करते हो जो हमेशा से करते आ रहे हो, तो आपको केवल उतना ही मिलेगा जितना हमेशा से मिलता आया है” इसलिए आपको लगातार काम करने की आदत डालनी होगी ओर

अपने कल के रिकॉर्ड को आज तोड़ना होगा आपकी लड़ाई किसी और से नहीं बल्कि खुद से है आपको हर दिन खुद को हराकर एक नया रिकॉर्ड बनाना है बस आज से ही आपको हर दिन हराने की सोचो आप जरूर सफल हो जाएंगे।

हर दिन एक आग आपको उठाये

दोस्तों एक आदत डालने की कोशिश कीजिये भले ही आपको शुरुआत में कठिनाई होगी पर कुछ दिन बाद यह आपकी आदत जैसी बन जाएगी, जब भी सुबह उठते हो तो बिस्तर से बाहर निकलने से पहले ही आज आपको दिनभर क्या करना है उसका नक्शा अपने दिमाग मे बना लो और उसको करने की कोशिश करना शुरु करें आप कुछ दिन बाद महसूस करेंगे कि आपको हर दिन एक आग उठा रही है और देखना दोस्तों वो आग कमाल की होगी जिससे आपका हर दिन बहुत ही बेहतर होगा।

महान लक्ष्य को पाने का रास्ता इस तरह से बनाएं

प्रत्येक ब्यक्ति अपने जीवन मे सफल होना चाहता है और सफल होने के लिए उसे एक महान लक्ष्य का निर्धारण करना होता है लेकिन केवल लक्ष्य निर्धारण करने से सफलता नहीं मिलती उसके लिए आपको मेहनत करनी पड़ती है परन्तु ये बात भी सही है की अपने लक्ष्य प्राप्ति के लिए हर कोई मेहनत करता है।

Self Motivation In Hindi खुद को मोटिवेट कैसे रखें जानिए अचूक तरीके motivation point in hindi
Self Motivation In Hindi

दोस्तों मेरा मानना है एक बड़ा लक्ष्य बनाकर केवल उसके पीछे भाग जाना भी समय की बर्बादी है, जो अब मैं आपको बता रहा हूँ इसे ध्यान से पढ़ो सबसे पहले एक महान लक्ष्य का निर्धारण कीजिये फिर उसके बाद कुछ छोटे छोटे लक्ष्य बनाओ और उन छोटे छोटे लक्ष्यों को पूरा करने की कोशिश करें, जब आपके चयन छोटे लक्ष्य Achieve होंगे तो आपको Motivation मिलेगा और इससे आपके अंदर और ऊर्जा का निर्माण होगा और आप बड़े से बड़ा लक्ष्य भी हासिल कर लेंगे।

Motivational Thoughts पढें Self Motivation In Hindi

समय समय पर हम अपने जीवन मे डिमोटिवेट हो जाते हैं जिससे हम निराश होकर अपने लक्ष्य से अपने कदम पीछे की और खींचने लगते हैं तो इस समय हमें मोटिवेशन की आवश्यकता पड़ती है तो इस समय या तो आप कुछ motivation book पढ़े अथवा internet इसे कुछ Motivation Thought पढ़े जिससे आप Self Motivate हो सकें हमेशा खुद को मोटीवेट रखना बहुत जरूरी है।

अपने परिवार से अपने सुख – दुख बाँटे

आजकल लोग जब भी डिमोटिवेट हो जाते तो तो वो किसी को नहीं बताते बस अपने मन मे बातों को छुपाये रखते हैं जो कि बहुत गलत है इससे आदमी केवल घुटन भरी जिंदगी महसूस करता है और वह दिन प्रतिदिन डिप्रेशन में चला जाता है।

जब भी आप कभी डिमोटिवेट या किसी कार्य को करने में असफल हो जाते हैं रो अपने परिवार और करीबी दोस्तों से जरूर अपनी बातों को शेयर करें बात करने से मन हमेशा हल्का महसूस होता है और वे लोग आपका ढाढस बढ़ाएंगे जिससे आपमें एक नई ऊर्जा का विकास होगा। दोस्तों एक परिवार ही है जो आपका सुख – दुख का साथी है इसलिए उसे बिल्कुक भी नजरअंदाज न करें वह आपकी ताकत है उनसे अपना सुख – दुख बाँटिये।

कम से कम दो लक्ष्य अवश्य रखें

दोस्तों कई बार हमें जीवन मे असफलता का सामना करना पड़ता है फिर हमें समझ नहीं आता कि अब आगे क्या करें इसलिए हमें जीवन।मे कम से कम दो लक्ष्य अवश्य रखने चाहिए, यदि पहले को पाने में असफलता होती है तो अपनी कमियों को दूर करके दूसरे को पाने के लिए संघर्ष करें, न कि पहले के लिए अफसोस। उस अतीत को वहीं पर छोड़कर अपने जीवन की नई सुरुआत करें।

सफलता पाने के लिए हमें खुद पर विश्वाश करना होगा कि मैं इसे कर सकता हूँ और इसके लिए रिस्क लेना भी जरूरी है, अधिकतर सफलता उन्हीं लोगों को मिलती है जो रिस्क लेना जानते हैं।

जीवन मे किसी को कार्य के लिए आप को खुद पर भरोसा रखना चाहिए कि आप इस कार्य को कर सकते हैं क्योंकि

” भरोसे में वह शक्ति है जो मौत के मुँह से भी वापस ला सकती है खुद पर भरोसा कीजिये यकीन मानिए आप मे वे ब्रह्माण्ड की वह सभी शक्तियाँ निहित है जिससे आप हर काम कर सकते हैं। जीवन को सफल बनाने के लिए आपको सूरज की तरह जलना सीखना होगा, क्योंकि अगर आप सूरज की तरह चमकना चाहते हो तो पहले सूरज की तरह जलना सीखो। यकीन मानिए आप हर काम कर सकते हैं।

दोस्तों आशा करता हूँ की आपको Self Motivation In Hindi खुद को मोटिवेट कैसे रखें यह आर्टिकल पसंद आया होगा ऐसे ही बहुत सी पोस्ट आपको हमारे ब्लॉग मे पढ़ने को मिल जाएगी जिससे आप खुद को हमेशा Self Motivate रख सकते हैं। यदि आपको कुछ और के बारे मे पढ़ना चाहते हैं तो आप कॉमेंट मे जरूर बतायें हम आपके लिए अच्छे से अच्छा आर्टिकल लिखने के लिए प्रतिबद्ध हैं ।